(Charan) चरण का अर्थ Meaning in Hindi

चलते समय जब हम एक कदम आगे बढ़ाते हैं उस समय दोनों पैरों की जो जमीन पर आश्रित स्तिथि होती है वह चरण कहलाती है।

पहला पांव जहाँ आश्रित होगा यदि उसे पहला चरण कहा जाए तो आगे दूसरा पैर जमीन पर जिस जगह रखा जायेगा वह दूसरा चरण कहलाएगा। इसी प्रकार चलते समय हम चरणों में आगे बढ़ते है।

क्योंकि चरण शब्द पूर्णतः पाँव की स्थिति पर निर्भर है इसी कारण यह पाँव शब्द के पर्यायवाची के रूप में प्रसिद्ध हो चुका है।

इसके अतिरिक्त किसी क्रिया या खेल को जब विभिन्न भागों में श्रृंखला पूर्वक बाँट दिया जाता है तो उसका प्रत्येक श्रंखलाबद्ध भाग चरण कहलाता है।

चरण शब्द क्रिया के भागों को आगे तोड़ने के लिए भी प्रयोग किया जाता है जैसे यदि कहा जाये "अब खेल के प्रथम भाग का द्वितीय चरण शुरू होगा" इस वाक्य में खेल को भागों में बांटा गया है व भागों को आगे चरणों में बांटा गया है।

इसके अतिरिक्त किसी छंद के एक पद को भी चरण की संज्ञा दी जाती है। एक से अधिक अर्थ होने के कारण चरण एक बहुअर्थ शब्द है।

चरण को अंग्रेजी में स्टेप कहा जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्ण शंकर का अर्थ | Varna Shankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...