(Prashan) प्रश्न का अर्थ Meaning in Hindi

प्रश्न जिज्ञासा से युक्त एक वाक्य होता है। जो सदैव एक प्रतिउत्तर की मांग करता है। प्रश्न में निहित जिज्ञासा को जो अन्य वाक्य शांत करता है वह उत्तर कहलाता है। प्रश्न  वर्तमान में होने के बावजूद पूर्णता प्राप्ति व जिज्ञासा शांति के लिए भविष्य पर निर्भर करता है।

सभी प्रश्नों का उत्तर मिल पाना सम्भव नही होता इसी कारण कुछ प्रश्नों की जिज्ञासा बहस की प्रक्रिया से कुछ हद तक शांत की जा सकती है। जिसमें प्रश्न से प्रश्न टकराते है व हो सकता हैं इस बहस में कुछ प्रश्न अपना वजूद खो दें।

सरल शब्दों में किसी से जानकारी की मांग करने के लिय प्रयोग किये जाने वाले वाक्य प्रश्न कहलाते हैं।

उदाहरण:

इस अर्थ को पढ़ कर हमें क्या जानने को मिला?

उपरोक्त वाक्य एक प्रश्न है तथा एक जानकारी की मांग कर रहा है। यदि आप इस वाक्य में निहित जिज्ञासा को शांत करना चाहते हैं तो आपको इस अर्थ को पढ़ने के बाद प्राप्त हुई जानकारी सांझा करनी होगी जो अपने आप में एक सम्पूर्ण जानकारी होने के साथ साथ उपरोक्त प्रश्न को उत्तर भी देगा। प्रश्न को अंग्रेजी में क्वेश्चन कहा जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...