आग लगने पर कुआँ खोदना का अर्थ | Aag lagne par kuan khodna meaning in hindi

विपत्ति आ जाने के बाद जब कोई कुछ करने की बजाए उसका उपाए सोचने बैठ जाता है तो उसके इस मूर्खता भरे कार्य के लिए उपरोक्त मुहावरे का प्रयोग किया जाता है। आग लगने पर कुआँ खोदना मुहावरे का मतलब होता है संकट आने पर प्रतिकार का उपाय ढूंढना। भविष्य में आने वाली किसी भी प्रकार की विपत्ति का अंदाज़ा लगाकर हमें पहले से हो सजग होना चाहिए उदाहरण के तौर पर मुहावरे में प्रयुक्त शब्दों के अनुसार आग लगने पर पानी की उपस्थिति पहले से होनी चाहिए न कि आग लगने पर आप कुआँ खोदकर पानी निकालने बैठोगे। उसी प्रकार किसी भी विपत्ति से निपटने के लिए पहले से ही उपाए किए जाने चाहिए अन्यथा विपत्ति आने के बाद पहले उपाए खोजोगे फिर उन्हें अमल में लाओगे इतने में विपत्ति भयंकर नुकसान कर देगी।
उदाहरण: पहले तो प्रशासन ने कुछ किया नही अब जब बाढ़ आ गई है तो उससे निपटने के उपाय ढूँढे जा रहे हैं। ये तो आग लगने पर कुआँ खोदने वाली बात हो गई।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...