आस्तीन का सांप का अर्थ | Asteen ka sanp meaning in hindi

कोई ऐसा धूर्त व्यक्ति जो व्यवहार तो एक मित्र की तरह करे परन्तु हर समय हानि पहुँचाने की ताक में रहे को आस्तीन का सांप कहा जाता है। आस्तीन का सांप मुहावरे का मतलब होता है मित्र के वेश में शत्रु। इस मुहावरे को शाब्दिक रूप में समझा जाए तो आस्तीन कपड़े का वह भाग होता है जो शरीर के कंधे से लेकर कलाई तक के भाग को ढकता है तथा हाथ से हाथ मिलाना मित्रता का प्रतीक है हाथ मिलाते हुए दो व्यक्तियों की आस्तीन एक दूसरे के करीब होती हैं जो मित्रता का प्रतीक है यदि कोई व्यक्ति आस्तीन का प्रयोग कोई हथियार छपाने इत्यादि के लिए करे और मौका मिलते ही हानि पहुँचा दे इस प्रकार के व्यक्ति को आस्तीन का सांप कह कर निंदित किया जाता है। हालांकि मित्र बन कर किसी भी प्रकार से शत्रुता निकाली जा सकती है इसलिए मित्र के वेश में किसी भी प्रकार के शत्रु को आस्तीन का सांप कहा जा सकता है। आस्तीन का सांप मुहावरे का वाक्य में प्रयोग निम्न है।
उदाहरण: 1). राजनीति में आस्तीन के सांपो की कोई कमी नही है।
2). मोहन तुम पर इतना विश्वास करता था लेकिन तुमने उसे धोखा देकर उसका सारा धंधा जब्त कर लिया तुम तो आस्तीन का सांप निकले।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...