मुँह में राम राम बगल में छुरी का अर्थ | Muh me ram ram bagal me churi meaning in hindi

जब कोई व्यक्ति मुँह पर मीठा बोले व तारीफ करे तथा पीठ पीछे बुराई करे व हानि पहुँचाने हर सम्भव प्रयास करे ऐसे दुष्ट व्यक्ति के इस व्यवहार के लिए उपरोक्त मुहावरे का प्रयोग किया जाता है। मुँह में राम राम बगल में छुरी मुहावरे का अर्थ होता है मित्रता का ढोंग कर हानि पहुँचाना। राम-राम कहने का अर्थ होता है प्रेम पूर्वक अभिनन्दन करना। तथा बगल में छुरी का अर्थ होता है सामने वाले कि नज़र में आए बिना उसका अनिष्ट करना। यह मुहावरा ऐसे व्यक्ति के व्यवहार पर सटीक बैठता है जो मित्रता का ढोंग कर दुश्मनी निकालता है।
उदाहरण: तुम्हारे सामने तो मोहन इतना प्यार दिखाता है लेकिन जब तुम चले जाते हो तो तुम्हारी बुराई करने में कोई कसर बाकी नही छोड़ता ये तो वही बात हो गई मुँह में राम राम बगल में छुरी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...