श्रोता का अर्थ | Shrota meaning in hindi

वह जो वक्ता द्वारा दी गई मौखिक जानकारी को सुनकर ग्रहण करे को श्रोता कहा जाता है। श्रोता का मतलब होता है सुनने वाला (इंग्लिश: लिस्नर)। श्रोता शब्द रूपी जानकारी को अपनी श्रवण शक्ति के जरिए ग्रहण करता है। वक्ता तथा श्रोता के मध्य शब्दों की एक अदृश्य रेखा बनती है जो वक्ता के शब्दों को श्रोता तक निरन्तर पहुँचाती है। उदाहरण के तौर पर यदि आप किसी सभा में गए हैं तथा वहां दी जा रही जानकारी को सुन रहे हैं तो आप एक श्रोता हैं। आमतौर पर किसी भी स्थान पर एकत्रित हुए लोगों में श्रोता की संख्या वक्ता से अधिक होती है तथा दोनों एक दूसरे के बिना विचारों का आदान प्रदान करने में असमर्थ होते हैं।
उदाहरण: गायक के मंच पर आते ही सभी सभी श्रोताओं ने तालियों से उनका स्वागत किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...