(Svayan) स्वयं का अर्थ Meaning in Hindi

अपने आप खुद को केंद्रित या चिन्हित करने के लिए प्रयोग किया जाने वाला शब्द "स्वयं" है। जैसे: मैं यह काम स्वयं कर लूंगा इस वाक्य में कार्य को अपने आप करने का भाव है अर्थात कर्ता खुद की बात कर रहा है।

जब हम किसी ऐसी क्रिया की बात करते है जो हमारे द्वारा खुद ही की जाती है अर्थात जिस क्रिया का हम खुद एक भाग होते है तो यह क्रिया स्वयं द्वारा की गयी कहलाती है। स्वयं शब्द हमारे हम को अर्थ देता है।

अन्य अर्थ:

अपना आपा: अपनी खुद की निजता को तथा अपने खुद के कुल भाग को अपना आपा कहा जाता है जो स्वयं शब्द का प्रायवाची है।

स्वयं को इंग्लिश में सेल्फ (Self) कहा जाता है।

(Balihari) बलिहारी का अर्थ Meaning in Hindi

प्रेम अधीनता के कारण किसी पर अपने आप को न्यौछावर कर देने के भाव को बलिहारी कहा जाता है।

किसी के प्रेम में उसके अधीन होना अपना सब कुछ यहाँ तक की अपने आप को उस पर कुर्बान कर देना बलिहारी शब्द को अर्थ देता है।

जैसे: "तेरे प्यार में मै बलिहारी जाऊ" वाक्य के अर्थानुसार स्त्री अपने प्रेम पर न्यौछावर होने की बात कह रही है तथा वाक्य में खुद को प्रेम के अधीन कर देने का भाव निहित है।

अन्य अर्थ:

कुर्बान जाना: स्वयं का जीवन तक किसी को अर्पित कर देने की इच्छा कुर्बान जाना कहलाती है।

बलिहारी को इंग्लिश में टू ढाई (To Die) कहा जाता है।

(Rasta) रास्ता का अर्थ Meaning in Hindi

बार-बार चलने के कारण पाँव की छाप से जमीन पर बना एक दिशा निर्देश जिस का अनुसरण कर हम किसी स्थान तक पहुँचते हैं रास्ता कहलाता है।

किसी भी विशेष स्थान पर पहुंचने में रास्ता हमारी सहायता करता है आम तौर पर यह चलने के कदमों से पड़ने वाली छाप से अपने आप बन जाता है जिसे बाद में स्थिर व ठोस रूप दे दिया जाता है।

प्राचीन समय में रास्ता कच्चा होता था तथा प्रकृतिक मिटटी से बना होता था परंतु समय से साथ- साथ रास्तो को सड़कों का रूप दे दिया गया है जो अधिक टिकाऊ तथा उपयोगी है।

इसके अतरिक्त रास्ता शब्द का प्रयोग किसी प्रथा या रीती-रिवाज के लिए भी किया जाता है। पूर्वजों द्वारा उनकी आने वाली पीढ़ियों को कोई कार्य विशेष करने के लिए दिए गए दिशा-निर्देशो का ज्ञान कराने वाला रास्ता ही प्रथा या रीती- रिवाज के नाम से जाना जाता है।

इसके अतिरिक्त किसी उपाय को भी रास्ता नाम से संबोधित किया जा सकता है। जिस प्रकार रास्ता हमें बिना भटके हमारी मंजिल तक पहुंचाने में सहायता करता है ठीक उसी प्रकार उपाय किसी विकट परिस्थिति से निकलने में हमारी सहायता करता है। उदाहरण के तौर पर यह वाक्य लीजिए "इस परिस्थिति से बचने का कोई रास्ता निकालो" इस वाक्य का भावार्थ होगा परेशानी से निकलने के लिए उपाय की मांग करना। यहाँ ध्यान देने योग्य है कि रास्ता शब्द वाक्य में प्रयुक्त है जबकि भावार्थ में रास्ता का स्थान उपाय शब्द ने ले लिया है।

अन्य अर्थ:

मार्ग: रास्ता शब्द को शुद्ध हिंदी में मार्ग कहा जाता है ये दोनों शब्द समानार्थ है तथा एक दूसरे के प्रायवाची है।

राह: रास्ता तथा राह दोनों ही एक शब्द के दो रूप है मात्र भाषा अंतर के कारण दोनों अलग प्रतीत होते हैं।

रास्ता को इंग्लिश में वे (Way) कहा जाता है।

(Paanv) पाँव का अर्थ Meaning in Hindi

प्राणियों के शरीर का वह भाग जो टांग के अंत में होता है जिसका तलुआ जमीन से सट कर प्राणी को चलने व शरीर का भाग उठाने में सहायता करता है पाँव कहलाता है।

आमतौर पर पाँव पर ही सम्पूर्ण शरीर का भार टिका होता है तथा यह संख्या में एक से ज्यादा होते है। क्योंकि शरीर को स्थिर रखने के लिए एक पाँव का सदैव आधार बने रहना आवश्यक होता है। चलते समय यदि प्राणी का एक पाँव आगे बढ़ने के लिए जमीन से उठता है तो दूसरा आधार बनता है तथा शरीर को खड़े रहने के लिए सहारा देता है और जब दूसरा पाँव आगे बढ़ने के लिए उठता है तो पहला पाँव आधार बन कर कुछ पल के लिए स्थिर हो जाता है। कुछ प्राणियों में पाँव की संख्या दो होती है तथा कुछ में यह संख्या चार या चार से ज्यादा होती है।

इसके अतिरिक्त पाँव को आधार का पर्यायवाची भी कहा जा सकेता है। जैसे यदि कहा जाए "पहले अपने पाँव पर खड़े हो जाओ" तो इस वाक्य का अभिप्राय: होगा स्वयं का आधार बनाने की सलाह देना।

अन्य अर्थ:

पैर: पैर पाँव शब्द का ही दूसरा रूप है मात्र भाषा के अंतर के कारण दोनों शब्दो का अलग-अलग जन्म हुआ। पाँव तथा पैर एक ही शब्द है व एक दूसरे के प्रयायवाची बनते हैं।

पाँव को इंग्लिश में फुट (Foot) कहा जाता है।

(Chhuna) छूना का अर्थ Meaning in Hindi

हाथ या शरीर का कोई भी अंग यदि किसी वस्तु के साथ भौतिक रूप से सम्पर्क में आता है तब इस क्रिया को छूना कहा जाता है।

हालांकि शरीर के किसी भी अंग का प्रयोग कर यह क्रिया की जा सकती है परंतु हाथों के सम्पर्क को यह शब्द सटीक अर्थ देता है। जब हम हाथ को किसी वस्तु (जैसे कि दिवार) के सम्पर्क में ले जाते हैं तो इस क्रिया को दिवार को छूना कहा जाता है। यह क्रिया संजीव और निर्जीव दोनों के सम्पर्क में आने से होती हैं। जैसे यदि हम किसी वस्तु को स्पर्श करें तो यह निर्जीव को छूना हुआ और यदि हम किसी जीव को स्पर्श करें तो यह संजीव को छूना हुआ।

किसी वस्तु को छूने की क्रिया किसी वस्तु को पकड़ने की क्रिया से अलग होती है। पकड़ने के लिए छूने की आवश्यकता होती है परंतु छूने के लिए पकड़ने की आवश्यकता नही होती।

इसके अतिरिक्त दो वस्तुओं के बीच का अंतर समाप्त होने पर जब वे एक दूसरे से सट कर अलग हो जाती हैं तो इसे उन वस्तुओं का एक दूसरे को छूना कहा जाता है।

अन्य अर्थ:

स्पर्श: शरीर के किसी भी अंग द्वारा भौतिक सम्पर्क करने की क्रिया स्पर्श कहलाती है यह शब्द छूना का पर्यायवाची है।

छूना को इंग्लिश में टच (Touch) कहा जाता है।

(Pujniya) पूजनीय का अर्थ Meaning in Hindi

जो पूजा करने योग्य हो पूजनीय कहलाता है जैसे ईश्वर पूजनीय है। हालांकि पूजनीय शब्द पूजा से बना है परंतु इसका एका-एक भावार्थ पूजा करने से नही है बल्कि आदर करने से भी है जैसे यदि किसी ने अपने गुरु के नाम के आगे पूजनीय लगाया है तो इसका अर्थ "गुरु की पूजा " न हो कर "गुरु का आदर" होगा। इसका अर्थ ये हुआ कि पूजनीय शब्द आदरणीय को पर्याय देता है।

पूजनीय शब्द प्रचंड़ आदर दर्शाने के लिए प्रयोग किया जाता है जो समय के साथ साथ प्रचलित भी हो चुका है तथा लोगों द्वारा अपने पूर्वजों के नाम के समक्ष पूजनीय शब्द लगाया जाना आम हो गया है।

अन्य अर्थ:

आदरणीय:  वह जो आदर के योग्य हो उसके नाम के समक्ष आदरणीय शब्द का प्रयोग किया जाता है जो पूजनीय का पर्यायवाची है।

वंदनीय: वह जिसकी वंदना की जाती हो वंदनीय कहलाता है तथा यह शब्द केवल ईश्वर के नाम के समक्ष प्रयोग में किया जाता है।

पूजनीय को इंग्लिश में वॉरशिपेबल (Worshipable) कहा जाता है।

सचिवालय का अर्थ | Sachivalaya Meaning in Hindi

सचिवालय (Secretariat) राज्य प्रशासन का एक भाग है जो चुनाव में जीते मंत्रियों की नीति निर्माण करने में सहायता करता है; सचिवालय में अलग-अलग वि...