प्रश्नकाल का अर्थ | Prashnakal meaning in hindi

प्रश्नकाल का सीधा अर्थ है सरकार से प्रश्न करने का समय। दोनों सदनों में सुबह 11 से 12 बजे तक एक घण्टे का समय प्रश्नकाल के नाम से जाना जाता है। इस समय मे सदन का कोई भी सदस्य मंत्री परिषद से प्रश्न कर सकता है तथा यह प्रश्न लोक महत्व से जुड़ा होता है। इन प्रश्नों का उद्देश्य लोक महत्व से जुड़े मामलों के बारे में मंत्री परिषद से जानकारी हासिल करना होता है। प्रश्नकाल सदन का सबसे महत्वपूर्ण समय माना जाता है क्योंकि इसी समय के दौरान सरकार का ध्यान सार्वजनिक समस्याओं की ओर लाया जाता है। जिससे सरकार प्रशासनिक कार्यों में त्रुटि की वजह से जनता को हो रही परेशानियां दूर करने हेतु कार्य कर सके व जनता की शिकायतों के निबटारे हेतु उचित व्यवस्था कर सके। प्रश्नकाल सरकार से सवाल पूछे जा सकने वाला समय होता है। प्रश्नकाल का अंग्रेजी में मतलब होता है क्वेश्चन ऑवर। सदन में पूछे गए सवालों का जवाब देने हेतु सरकार प्रतिबद्ध होती है हालांकि जवाब देने के लिए सरकार को उचित समय भी दिया जाता है।

शून्यकाल का अर्थ | Shunyakal meaning in hindi

शून्यकाल सदन से जुड़ा हुआ एक शब्द है शून्यकाल एक घण्टे का वह समय होता है जो प्रश्नकाल के बाद आरंभ होता है। दोनों सदनों में दोपहर 12 बजे से 1 बजे तक के समय को शून्यकाल कहा जाता है। यह समय 12 बजे से शुरू होकर सदन के दोपहर के भोजन के लिए स्थगित होने के समय 1 बजे तक चलता है। शून्यकाल से सबंधित किसी भी नियम का कोई उल्लेख संसद नियमावली में नही है इसलिए शून्यकाल किसी भी तरह के नियम का अनुसरण नही करता। इस एक घण्टे के समय मे सदन के सदस्य ऐसे प्रश्न उठाते हैं जिनके विषय में पहले से कोई सूचना नही दी गई होती। तथा सदस्य शून्यकाल में उठाए गए लोक महत्व से सबंधित प्रश्नों पर तुरंत कार्यवाही चाहते हैं। शून्यकाल का अंग्रेजी भाषा में मतलब होता है जीरो ऑवर। सदन में 12 बजे से 1 बजे तक के समय को शून्यकाल इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह 12 बजे शुरू होता जो ना तो पूर्वाह्न में आता है और ना ही अपराह्न में आता है। शून्यकाल नाम समाचार पत्रों द्वारा दिया गया है तथा समाचार पत्रों ने ही इसे प्रचलित भी किया है। वास्तव में भारतीय संविधान में शून्यकाल का कोई उल्लेख नही है यह शब्द तथा इसकी परिभाषा पूर्ण रूप से समाचार पत्रों की ही देन है और इन्ही के माध्यम से अपना अस्तित्व बनाए हुए हैं। परन्तु फिर भी शून्यकाल का राजनीति तथा शासन व्यवस्था पर गहरा प्रभाव पड़ता है।

आरोप का अर्थ | Aarop meaning in hindi

किसी बुरे कार्य के लिए या किसी की हानि का कारण बनने के लिए लगाए गए दोष को आरोप कहा जाता है। आरोप का मतलब होता है कसूर या दोष (इंग्लिश: एक्यूज़ेशन)। आरोप हानि होने पर लगाए जाते हैं आरोप किसी प्रमाण के साथ भी हो सकते हैं और बेबुनियाद भी हो सकते हैं। आरोपों को सच मानने से पूर्व पूरी छानबीन की जाती है। यदि किसी व्यक्ति पर आरोप साबित हो जाते हैं अर्थात वह किसी हानि के लिए कसूरवार पाया जाता है तो उसे आरोपी कहा जाता है। आरोपी के लिए कानून में सज़ा का प्रावधान होता है। आरोप की संवेदनशीलता को देखते हुए सज़ा निश्चित की जाती है।
उदाहरण: 1). तुमने जितने भी आरोप मुझ पर लगाए हैं सब बे-बुनियाद हैं।
2). आरोप लगने मात्र से मान-प्रतिष्ठा पर प्रश्न चिन्ह लग जाता है।

श्रोता का अर्थ | Shrota meaning in hindi

वह जो वक्ता द्वारा दी गई मौखिक जानकारी को सुनकर ग्रहण करे को श्रोता कहा जाता है। श्रोता का मतलब होता है सुनने वाला (इंग्लिश: लिस्नर)। श्रोता शब्द रूपी जानकारी को अपनी श्रवण शक्ति के जरिए ग्रहण करता है। वक्ता तथा श्रोता के मध्य शब्दों की एक अदृश्य रेखा बनती है जो वक्ता के शब्दों को श्रोता तक निरन्तर पहुँचाती है। उदाहरण के तौर पर यदि आप किसी सभा में गए हैं तथा वहां दी जा रही जानकारी को सुन रहे हैं तो आप एक श्रोता हैं। आमतौर पर किसी भी स्थान पर एकत्रित हुए लोगों में श्रोता की संख्या वक्ता से अधिक होती है तथा दोनों एक दूसरे के बिना विचारों का आदान प्रदान करने में असमर्थ होते हैं।
उदाहरण: गायक के मंच पर आते ही सभी सभी श्रोताओं ने तालियों से उनका स्वागत किया।

वक्ता का अर्थ | Vakta meaning in hindi

वह जो अपने विचारों को शब्दों के माध्यम से औरों तक पहुँचाता है को वक्ता कहा जाता है वक्ता का मतलब होता है बोलने वाला (इंग्लिश: स्पीकर)। वक्ता अपने विचारों तथा जानकारी को शब्दों के रूप में अर्थात मौखिक रूप में श्रोताओं तक पहुँचाता है। जब वक्ता बोल रहा होता है उस समय जानकारी के आदान-प्रदान के लिए कम से कम एक श्रोता का होना अनिवार्य है तथा अधिक से अधिक श्रोता कितने भी हो सकते हैं इनकी कोई सीमा नही होती। श्रोता वक्ता द्वारा दी जा रही जानकारी को अपनी श्रवण शक्ति का प्रयोग कर ग्रहण करते हैं। उदाहरण के तौर पर यदि वक्ता की बात की जाए तो मान लीजिए आप किसी को कुछ कह रहे हैं या सभा को संबोधित कर रहे हैं तो उस समय आप एक वक्ता हैं। तथा आपकी बात को सुनने वाले श्रोता कहलाएंगे। आमतौर पर श्रोता की संख्या वक्ता से ज्यादा होती है।
उदाहरण: आज की सभा में आप वक्ता के तौर पर आमंत्रित हैं।

आग में कूदना का अर्थ | Aag me kudna meaning in hindi

जब किसी व्यक्ति को पता होता है कि वह कोई कार्य विशेष करने से मुसीबत में पड़ जाएगा। परन्तु फिर भी व औरों की मदद करने या किसी विशेष उद्देश्य से वह मुसीबत मोल लेता है तब व्यक्ति के इस कदम को उपरोक्त मुहावरे से दर्शाया जाता है। आग में कूदना मुहावरे का मतलब होता है जानबूझकर मुसीबत में पड़ना। आने वाली विप्पति का पता होते हुए भी दूसरों के खातिर मुसीबत को गले लगाने वाले व्यक्ति के साहसी कदम के लिए आग में कूदना मुहावरा प्रयोग किया जाता है।
उदाहरण: 1). अगर तुम में हिम्मत है इन बच्चों की मदद करो इनकी गरीबी दूर करने के लिए भ्रष्टाचार के खिलाफ जल रही इस आग में कूद जाओ।
2). आग में कूदकर जान बचाना साहसी लोगों का काम है वे किसी की मदद करते समय अपनी हानि के बारे में नही सोचते।

आग में घी डालना का अर्थ | Aag me ghee dalna meaning in hindi

किसी के बीच हो रही लड़ाई को शांत करने की बजाए दोनों दलों को उग्र होने पर मजबूर करना आग में घी डालना मुहावरे को अर्थ देता है। आग में घी डालना का मतलब होता है झगड़े को बढ़ाना। पहले से हो रहे झगड़े को भड़काने की क्रिया को आग में घी डालना मुहावरे से दर्शाया जाता है।
उदाहरण: 1). उन दोनों के बीच लड़ाई हो रही थी ऊपर से अशोक ने आकर दो-चार बातें और कह दी अशोक की बातों ने आग में घी का काम किया और दोनों एक दूसरे को मारने पर उतारू हो गए।
2). तुम उसे भड़काओ मत तुम्हारी बातें आग में घी डालने का काम कर रही हैं

आग पर पानी डालना का अर्थ | Aag par pani dalna meaning in hindi

जब कहीं पर कोई झगड़ा चल रहा हो तथा कोई अन्य व्यक्ति आकर झगड़े को शांत करवा दे तो उसके इस कार्य को उपरोक्त मुहावरे से बयान किया जाता है। आग पर पानी डालना मुहावरे का मतलब होता है शांत करना। इस मुहावरे में आग शब्द गुस्से के लिए प्रयोग किया गया है जैसे आग को पानी डालकर शांत किया जाता है उसी प्रकार क्रोधित व्यक्ति को समझा बुझा कर शांत किया जा सकता है। गुस्से के कारण हो रहे झगड़े को जब कह सुन कर शांत किया जाता है तो स्थिति की व्याख्या के लिए आग पर पानी डालना मुहावरा प्रयोग किया जा सकता है।
उदाहरण: 1). राम और श्याम के बीच गरमा गरमी हो गई थी दोनों में झगड़ा बढ़ने ही वाला था कि मोहन ने आकर मामला शांत करवा जलती आग में पानी डालने का काम किया।
2). हमें किसी भी झगड़े को बढ़ावा देने की बजाए दोनों दलों के बीच भड़की आग पर पानी डालने का प्रयास करना चाहिए।

आकाश पाताल एक करना का अर्थ | Akash Patal ek karna meaning in hindi

जब कोई व्यक्ति कुछ पाने के लिए भरसक परिश्रम करता है तथा उद्देश्य प्राप्ति के लिए ऐडी चोटी का जोर लगा देता है तब उसके इस कठिन परिश्रम के लिए उपरोक्त मुहावरे का पयोग किया जाता है। आकाश पाताल एक करना मुहावरे का मतलब होता है खूब परिश्रम करना। यह मुहावरा ऐसे परिश्रम के लिए उपयुक्त होता है जहाँ व्यक्ति काम करते हुए दिन-रात, गर्मी-सर्दी या समय किसी की भी परवाह नही करता तथा उद्देश्य प्राप्ति हेतु भरसक परिश्रम करता जाता है।
उदाहरण: 1). तुम्हे बड़ा आदमी बनाने के लिए तुम्हारे भाई ने आकाश पाताल एक कर दिया था।
2). समाज को अपराध मुक्त बनाने के लिए चलाई गई मुहिम को यदि सफल बनाना है तो पुलिस को आकाश पाताल एक करना पड़ेगा।

आकाश के तारे तोड़ लाना का अर्थ | Akash ke tare tod lana meaning in hindi

जब कोई व्यक्ति किसी ऐसे कार्य की पूर्ति कर दे जिसे कर पाना असंभव माना जा रहा हो। तब उसके इस असंभव कार्य के लिए उपरोक्त मुहावरे का प्रयोग किया जाता है। आकाश के तारे तोड़ लाना मुहावरे का मतलब होता है असंभव काम करना। असीमित कठिनाइयों से भरा कोई काम जिसे कर पाने में सभी असहज हों तथा वह कार्य विशेष कर पाना सभी को असंभव लगे तब यह मुहावरा दोहराया जाता है।
उदाहरण: 1). तुम्हे क्या लगता है कि मोहन कुछ नही कर सकता। अरे... समय आने पर वो आसमान के तारे भी तोड़ कर ला सकता है।
2). तुम्हारे लिए कक्षा में प्रथम आना आकाश के तारे तोड़ लाने जैसा है।

कान पर जूँ तक ना रेंगना का अर्थ | Kaan par ju tak na rengna meaning in hindi

जब किसी व्यक्ति पर कही गई बातों का तनिक भी असर नही होता तथा वो ना तो कही गई बात पर कोई प्रतिक्रिया करता और ना ही कही गई बात से किसी भी तरह से प्रभावित होता ऐसे व्यक्ति के लिए उपरोक्त मुहावरे का प्रयोग किया जाता है। कान पर जूँ तक ना रेंगना का अर्थ होता है बात अनसुनी करना या बात का कोई असर ना होना। यह मुहावरा उस व्यक्ति के लिए प्रयोग होता है जिस पर कहे-सुने का नकारात्मक या सकारात्मक किसी भी प्रकार से कोई प्रभाव नही पड़ता।
उदाहरण: 1). तुमको मैं कितनी देर से समझा रहा हूँ लेकिन तुम्हारे कान पर जूँ तक नही रेंगती।
2). परीक्षा में असफल होने पर मोहन के पिता ने उसे बहुत डाँटा लेकिन उसके कान पे जूँ तक ना रेंगी और अब भी वह पढ़ाई पर कोई ध्यान नही देता।

भैंस के आगे बीन बजाना का अर्थ | Bhains ke aage been bajana meaning in hindi

जब हम किसी ऐसे व्यक्ति को समझाने का प्रयत्न करते हैं जिस पर हमारी बातों का तनिक भी प्रभाव न पड़ रहा हो तथा वो लगातार हमारी बातों को अनसुना कर रहा हो तब उपरोक्त मुहावरे का प्रयोग किया जाता है। भैंस के आगे बीन बजाना का अर्थ होता है मूर्ख को समझाने का प्रयास करना। जब कोई व्यक्ति हमारी बातों का अर्थ समझने की शक्ति न रखता हो व तब भी हम उसे समझाने की व्यर्थ कोशिश कर रहे हों तथा उसके कान पर जूं तक न रेंगे ऐसी स्थिति में भैंस के आगे बीन बजाना मुहावरा प्रयोग किया जा सकता है।
उदाहरण: 1). मैंने तुमको इतना कुछ समझाया लेकिन तुम्हे कुछ समझ नही आता तुम्हे समझाना तो भैंस के आगे बीन बजाना है।
2). श्याम ने एक बार जो निर्णय ले लिया सो ले लिया अब वो बदलने वाला नही है भैंस के आगे बीन बजाने का कोई फायदा नही है।

एम आरएनए वैक्सीन का अर्थ | mRNA Vaccine Meaning in Hindi

चर्चा में क्यों : हाल ही में 16 नवंबर को अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना ने अमेरिका के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान के साथ मिलकर विकसित किए गई वैक्सीन ...