Gadya Meaning in Hindi गद्य का अर्थ

गद्य उस लिखित रचना को कहा जाता है जो आम भाषा में लिखी गई हो यानि कि जैसे हम बोलते हैं वैसे ही उसे लिखित शब्दों में उतार दिया गया हो। गद्य में किसी भी प्रकार से शब्दों की संख्या, अलंकार या लयबद्ध तरीके इत्यादि का ध्यान नहीं रखा जाता। विशेष बात यह है कि गद्य में किसी भी प्रकार की कविता इत्यादि नहीं लिखी जा सकती क्योंकि यह एक सीधी और सरल भाषा होती है जिसमें हम सरल शब्दों में कोई भी बात लिखते हैं। विशेषकर जब हम किसी बात या विधि को विस्तार पूर्वक लिखते हैं तो इस प्रकार की लिखी हुई पूरी रचना को गद्य में शामिल किया जाता है। हमारे द्वारा लिखा गया कोई पत्र इत्यादि भी गद्य लेखन में आता है जो कि बिना किसी विशेष लय या कविता इत्यादि के सीधे शब्दों में लिखा जाता है।

क्योंकि गद्य की भाषा बोलचाल की भाषा का ही लिखित रुप होती है इसलिए यदि हम गद्य को पढ़ते हैं तो सामने वाले को इस तरह से महसूस होता है कि हम अपनी बात कह रहे हैं या किसी की कही हुई बात दोहरा रहे हैं। गद्य को अंग्रेजी में प्रोज (Prose) कहा जाता है।

यह भी पढ़ें:

पद्य का अर्थ
बेबाक का अर्थ
बाहुबली का अर्थ
असमंजस का अर्थ
पूर्णिमा का अर्थ

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अत्र तत्र सर्वत्र का अर्थ | Atra Tatra Sarvatra Meaning in Hindi

हिन्दी के सुप्रसिद्ध व्यंग्यकार शरद जोशी द्वारा लिखित पुस्तक "यत्र तत्र सर्वत्र" के प्रकाशन के बाद से इस शब्द की आम जनों में प्रसि...