Shok Sabha Meaning in Hindi शोक सभा का अर्थ क्या है

शोक सभा लोगों का एक ऐसा समूह होता है जिसमें लोग किसी अप्रिय घटना के चलते संवेदना व दुःख प्रकट करने के लिए एकत्रित होते है। इस प्रकार की सभा आमतौर पर किसी व्यक्ति की मृत्यु होने के पश्चात संगठित होती है शोक सभा में भाग लेने वाले सभी व्यक्ति उस स्वर्गवासी व्यक्ति की मृत्यु पर अपना दुख प्रकट करते हैं व दुखी मन से अपने विचार रखते हैं इस प्रकार की सभा का मूल उद्देश्य मृत व्यक्ति के प्रति अपने सम्मान की भावना को दर्शाना होता है। शोक सभा को अंग्रेजी में कंडोलेंस मीटिंग (Condolence Meeting) कहा जाता है।

सांस्कृतिक रूप से शोक सभा बड़े से बड़े व छोटे से छोटे व्यक्ति की मृत्यु पर संगठित होती है तथा लोगों का यूँ संगठित होना भारत सहित पूरी दुनिया में देखा जा सकता है हालांकि संस्कृति के अनुसार इस सभा के नियम अलग-अलग होते हैं।

यह भी पढ़ें:

राष्ट्रीय शोक का अर्थ क्या है?
राजकीय अवकाश का अर्थ क्या है?
मसान का अर्थ क्या है?
अक्स का अर्थ क्या है?
सशक्तिकरण का अर्थ क्या है?

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्ण शंकर का अर्थ | Varna Shankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...