कलेजे पर साँप लोटना का अर्थ | Kaleje Par Saanp Lotna Meaning in Hindi

जब किसी के मन में किसी व्यक्ति या परिस्थिति को देखकर बहुत अधिक ईर्ष्या का भाव आता है और वह भावनात्मक रूप से पीड़ा का अनुभव करता है तो ऐसी स्थिति में उस पीड़ित व्यक्ति के लिए कलेजे पर साँप लोटना मुहावरे का प्रयोग किया जाता है। जब कोई किसी को देख भावनात्मक रूप से पीड़ा का अनुभव कर रहा हो तो कहा जाएगा कि इस व्यक्ति के कलेजे पर साँप लोट रहे हैं।

कलेजे पर साँप लोटना मुहावरे का मतलब होता है : अत्यधिक ईर्ष्या होना / जलन होना

(Sentence) वाक्य में प्रयोग :

1. मोहन और वैशाली को साथ देखकर नामिता के कलेजे पर साँप लोटने लगे।

2. अपने दुश्मन के घर सुख-समृद्धि और खुशहाली देख कर प्रकाश के कलेजे पर साँप लोट रहे हैं।

3. श्याम और राहुल ने एक ही साथ काम करना शुरू किया था लेकिन आज श्याम को अपने से ऊँचे पद पर देखकर राहुल के कलेजे पर साँप लौटते हैं।

4. आज के युग में कोई भी दूसरों की तरक्की देखकर खुश नही है किसी को अपने से आगे निकलता देखकर सबके कलेजे पर साँप लोटते हैं।

5. मोहन तो अपनी प्रतिभा के बल पर आगे बढ़ रहा है तुम्हारे कलेजे पर साँप क्यों लोट रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...