चिड़ी उड कां उड लिरिक्स का अर्थ | Chidi Udd Kaa Udd Lyrics Meaning in Hindi

चिड़ी उड कां उड पंजाबी गायक परमिश वर्मा द्वारा भगवान से काल्पनिक व हस्तमयप्रद तरीके से बात करते हुए गाया गया एक गाना है। इस गाने का पंजाबी लिरिक्स व हिंदी अर्थ निम्न है।

Parmish Verma's Song Chirri Udd Kaa Udd Lyrics Meaning & Translation in Hindi :

चिड़ी उड कां उड... होर रब्बा व्हाट्स गुड...

चिड़िया उड़... कौवा उड़... और भगवान... क्या कुछ अच्छा चल रहा है...?

हो विश मंगा मैं रब्बा तैथों... करके थोड़ी दलेरी जी...
हो रिच नू अज्ज्कल बाली... रूह जी करदी मेरी... होये...

हे भगवान तुझसे थोड़ी हिम्मत करके दुआ मांग रहा हूँ...
आज कल मेरा अमीर होने को बहुत दिल करता है...

बस सूट होण अरमानी दे... 20 -25 वर्साचे जी...
आ एलल वी, गुची वाले कपड़े घरे फड़ा जाण आपे जी...
ओ बिल गेट नाल ट्रम्प वी मित्रां दे कोल औंदा जांदा होवे...
बीमर, बेंज़ा, बेंटले दे नाल भरया पेया बरांदा होवे...

बस इतना ही कि कपड़े अरमानी (ब्रांड) के हों बीस पचीस वर्साचे के हों...
ये एल वी, गुची ब्रांड वाले मेरे घर कपड़े अपने आप दे जाएं...
बिल गेट्स और ट्रम्प भी मेरे पास आते जाते हों...
बीमर, बेंज और बेंटले जैसी लक्ज़री स्टाइलिश गाड़ियों से मेरा बरामदा भरा पड़ा हो...

ते 6X6 दा पिक़्क़ा 100 एकड़ विच लुधियाणे दे...
ते 300 विच अमरीका...
इक रावण दी लंका नालो वड्डा महल वी सोने दा...
तेरे सिर ते ऐश करा मैं की ऐ फ़ायदा रोने दा...

6 बाय 6 का पिक-उप ट्रक हो, 100 एकड़ ज़मीन लुधियाने में हो...
और 300 एकड़ अमरीका में हो...
एक रावण की लंका से भी बड़ा सोने का महल हो...
भगवान तेरे सिर पर मैं मजा करूँ...
आखिर रोने का क्या फायदा है...

हो चिट्टी लम्बोर्गिनी दे विच पा 21 इंच तू रिम भेजदे...
छोटे मोटे कमां नूं अल्लाद्दीन दा जिन्न भेजदे...
हो फिट होजां मैं बैठा बैठा मेरी थां किसे नूं जिम भेजदे...
मेरे खान नू पीजे खुल्ले, घर दे विच इक डोमिनो...
जे हथ पैंदा ओवर-सी तां वेगास विच कैसिनो...

सफ़ेद लम्बोर्गिनी में 21 इंच वाले रिम डालके भेज दो...
मैं बैठा बैठा फिट हो जाऊँ मेरी जगह किसी और को जिम भेज दो...
मेरे खाने के लिए ढेरों पिज़्ज़े घर में एक डोमिनो हो...
अगर ओवर-सी (इंटरनेशनल) तक पहुँच है तो वेगास में एक कसीनो भेज दो...

हो वंडर वुमन तों वी सोहणी मित्रां दे नाल बीबा होवे...
विच मिआमी झील कोल इक गोल्फ वाला टिब्बा होवे...

वंडर वुमन से भी सुन्दर मेरे साथ एक लड़की हो... मिआमी में झील के पास एक गोल्फ का क्लब हो...

जिड्डा होवे किड्ढा होवे, खेड-खेड ना रक़्क़ा मैं...
आह दुनिया ते जो हेटर मेरे बॉल चुक्कन नू रख़ा मैं...

कितना बड़ा हो इतना बड़ा हो कि मैं खेल खेल कर ना थकूं...
दुनिया पर जो मुझसे नफरत करने वाले हैं उन्हें बॉल उठाने के लिए रखूं मैं...

मस्ती दे विच कमला होके 2-2 रोलेक्सां लावां मैं...
ओ रंग बिरंगियां गड्डियां दे नाल मैचिंग लीड़े पावां मैं...
ते सब नू एह समझावां मैं...
के गेट मेरे नाल पिटबुल बन्ने पूछ हलाउंदे यारां नू...

मस्ती में मैं पागल बनके 2-2 रोलेक्स घड़ियाँ पहनूँ...
रंग बिरंगी गाड़ियों के साथ मैचिंग कपड़े पहनूं...
और सब को ये समझाऊं मैं, के मेरे दरवाजे पर पिटबुल बंधा है, जो मेरे दोस्तों को देख पूछ हिलाता है...

ओ... लाडी अग्गे की आ? वडण फेक न्यूजां वाले जाली पत्रकारां नूं...
फसल फूके ना किसे जट्ट दी, मूड कदे ना सैड होवे...
ओ... छोटी जेही इक होर विश मोटर ते हेलीपैड होवे...

अरे... लाडी आगे क्या है? झूठी खबर फैलाने वाले जाली पत्रकारों को काटे...
कभी किसी किसान की फसल ना जले... मूड कभी भी खराब ना हो...
एक और छोटी सी इच्छा है कि खेतों में पानी वाली मोटर के पास एक हेलीपैड हो...

ऍम वी ओएे... पैंदी ऐ फिर धक्क... चैंपियन?
ऍम वी भाई... पड़ रहा है ना इफ़ेक्ट फिर... मेरे चैंपियन...?

सूट पंजाबी लिरिक्स का अर्थ | Suit Punjabi Lyrics Meaning in Hindi

सूट पंजाबी गायक जस्स मानक द्वारा पंजाबी सूट पहने हुए लड़की की तारीफ करते हुए गाया गया एक गाना है। इस गाने का पंजाबी लिरिक्स व हिंदी अर्थ निम्न है।

Jass Manak's Song Suit Punjabi Lyrics Meaning & Translation in Hindi :

ओ सूट आ पंजाबी जट्टी...
पाई फिरदी...
सारा डाउनटाउन पीछे...
लाई फिरदी...

पंजाबी जट्टी (पंजाबी लड़की) पंजाबी सूट
पहन कर घूम रही है...
उसने सारा डाउनटाउन पीछे लगा रखा है...

हो रोणकी सुबा दी फिरे...
हस खेड़ के...
मैं देखी नी कदे चुन्नी...
लाही सिर दी...

वह खुशमिजाज स्वभाव की है और हँसती खेलती हुई घूम रही है...
मैंने उसके सिर से चुन्नरी कभी उतरी हुई नही देखी...

ओ शनिवार नूं टोरंटो विच...
मारे गेड़ियाँ...
लब्ब दी आ पक्के ओह...
टिकाणे यार दे...

वो शनिवार को टोरंटो में चक्कर लगाती है...
अपने यार के पक्के ठिकाने ढूंढती है...

मोडां उत्ते खड़ कुड़ी टाइम चक दी...
कहँदी कड दे आ जान रिम तेरी कार दे...

मोड़ पर खड़ी होकर लड़की आने जाने का टाइम नोट करती है...
कहती है तेरी कार के रिम जान निकालते हैं...

तेरा गोरा गोरा रंग करे कहर गोरिए...
मारे मुंडयां दे दिलां उत्ते फायर गोरिए...

गोरी तेरा गोरा रंग कहर ढाता है...
और लड़कों के दिलों पर फायर करता है...

तेरी अखां दे इशारे ने दिल लुटया...
अदे टाउन च पवाते साडे वैर बल्लीए...

तेरी आँखों के इशारे ने दिल लूट कर...
हमारी आधे शहर में दुश्मनी करवा दी है...

माणक नूं पटट्णे लई भेजे ऑफ़रां...
एनी छेती नईयो कित्ते जट्ट दिल हारदे...

माणक (जस्स मानक) को पटाने के लिए ऑफर भेज रही है...
इतनी जल्दी जट्ट दिल नहीं हारते...

हो एह वी धालीवाल निरा आ बारूद जट्टीए...
मुंडा माणकां दा पट्टे ना खरूद जट्टीए...
सोने जेहा चक्की फिरां दिल नखरो...
जट्ट पांवे आ सुबा दा थोड़ा रूड जट्टीए...

ये धालीवाल (एक नाम) भी पूरा बारूद है...
लड़का मानकों का कभी गुंडागर्दी नहीं करता...
दिल सोने जैसा लेके घूम रहा हूँ...
हालांकि स्वभाव मेरा जरा गर्म है...

मित्तरां दे दिल बड़े औखे जित्तणे...
सोची ना तूं जट्ट फोकियाँ ही मारदे...

हमारा दिल जीतना बड़ा मुश्किल काम है...
मत सोचना की जट्ट फेंक रहा है...

ब्रदरहुड लिरिक्स का अर्थ | Brotherhood Lyrics Meaning in Hindi

बर्दरहुड पंजाबी गायक मनकिरत औलख द्वारा पंजाबी लहजे में यारी दोस्ती पर गया गया एक गाना है। इस गाने का पंजाबी लिरिक्स व हिंदी अर्थ निम्न है।

Mankirt Aulakh's Brotherhood Song Lyrics Meaning & Translation in Hindi :

वड्डा शेर दा शिकारी...
कदे चीते नईयो ढक्कदा ओये...

बड़े शेर का शिकारी...
कभी चीते को नही रोकता...

यारां बिन कख दा...
यारां नाल लख दा ओये...

यारों के बिना कौड़ी का...
यारों के साथ लाखों का...

हो बंदा बूंदा कूटणा...
जे बम्ब किते सूटणा...
खजाना कोई लूटणा तां यार ने...

आदमी कोई पीटना हो...
बम कहीं फेंकना हो...
खज़ाना कोई लूटना हो... तो यार हैं...

जिद नूं पगौणा होवे...
जित्ते नूं हरौणा होवे...
साले नूं डरौणा होवे यार ने...

जिद्द पूरी करनी हो...
जीते हुए को हराना हो...
सालों को डराना हो... तो यार हैं...

हो फेर MP दा पुत्त वी...
मुरे अख नईयो चकदा ओये...

फिर MP का बेटा भी...
सामने आँख नही उठाता...

हो दुःख नूं वंडोण वाले...
हिक्क नाल लौण वाले...
हक्क जा जतोंण वाले यार ने...

दुख बांटने वाले...
सीने से लगाने वाले...
हक जताने वाले... यार हैं...

हो दिलां विच रहण...
जेहड़े महफिलां च बेहण...
तैनूं भाबी भाबी कहण वाले यार ने...

जो दिलों में बसें...
जो महफिलों में साथ बैठें...
तुझे भाभी-भाभी बोले... यार हैं...

यार बापू तों चोरी...
मंजा मोटर ते रखदा ओये...

पिता से चोरी...
मंजा (चारपाई) मोटर (ट्यूबवेल का स्थान) पर रखता हूँ...

ओ बकरी पुलेखे विच शेर बन जांदी आ...
ते चीते ओहदा करदे शिकार ने...
वेल्लियाँ ते रेल्लियाँ दे विच...
नाम बोले, नाम बोले वी क्योंना मेरे यार ने...

बकरी गलतफहमी में शेर बन जाती है...
और चीते उसका शिकार करते हैं...
खतरनाक दुश्मनों और रैलियों के बीच...
मेरा नाम गूँजता है, गूँजे भी क्यों ना... मेरे यार हैं...

हो वड्डा छोटा चंगा माडा...
कदे नईयो ठोकया...
ठोकया जेड़ा करे चौड़ नी...

बड़ा, छोटा, अच्छा, बुरा...
कभी नहीं पीटा...
पीटा वो जो ज्यादा होशियार बना...

मेरेया यारां दे बारे...
माडा जेहड़ा बोलू...
लगु पिटबुल्ल मुरे ओहदी दौड़ नी...

मेरे दोस्तों के बारे में...
गलत जो बोले...
पिटबुल (कुत्ते) के आगे उनकी दौड़ लगेगी...

लोकसभा तों लेके पिंड दी ग्राउंड तक...
सिंग्गे ते तां फैले होए यार ने...
यारां दी यारी लई सिंग्गा अंदर गया सी...
हुण सुनेया फ्लों होणी बार ने...
सुनेया फ्लो होणी बार ने...

लोकसभा से लेके गाँव के ग्राउंड तक...
सिंग्गे (नाम) के दोस्त फैले हुए हैं...
दोस्तों की दोस्ती के लिए सिंग्गा (नाम) जेल गया था...
अब सुना है फ्लो (DJ Flow) सब बाहर है...

ना ख़ुशी रेही ना चाह रेहा...
ना मंजिल रेही ना राह रेहा...
एह दुनिया पावें लाख वस् ते...
टूटया दिल कितों ना जुड़ेया...
मेरे यार एहनी दूर गए...
जिथों वापस कोई ना मुड़ेया...
जिथों वापस कोई ना मुड़ेया...

ना खुशी रही ना चाह रही...
ना मंजिल रही ना राह रही...
ये दुनिया चाहे लाख बसती है...
लेकिन टूटा दिन कहीं ना जुड़ा...
मेरे दोस्त इतनी दूर गए...
जहाँ से वापिस कोई ना आया...
जहाँ से वापिस कोई ना आया...

******************

द्वैतवाद क्या है / Dvaitavad kya hai / Dvaitavad meaning in Hindi

द्वैतवाद धर्म से संबंधित एक सिद्धांत है, जो कहता है कि मनुष्य और भगवान अलग-अलग वास्तविकताएं हैं, यह सिद्धांत मध्वाचार्य द्वारा दिया गया है, ...