हेल्पलाइन का अर्थ | Helpline Meaning in Hindi

किसी भी समस्या में का निपटान करने के लिए एक विशेष प्रकार का नंबर जारी किया जाता है इस नंबर को हेल्पलाइन अथवा हेल्पलाइन नंबर कहा जाता है। हेल्पलाइन शब्द इंग्लिश के दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है पहला शब्द है हेल्प; जिसका अर्थ होता है सहायता तथा दूसरा शब्द है लाइन; जिसका अर्थ होता है पंक्ति अर्थात फोन की वह लाइन जो सहायता के लिए उपलब्ध करवाई गई है।

इस समय लगभग सभी कंपनियों, सभी संस्थाओं और सरकार द्वारा अलग-अलग क्षेत्रों में सहायता के लिए अलग-अलग हेल्पलाइन उपलब्ध करवाई गई हैं जिसमें बैंक भी शामिल हैं। बैंक अपने ग्राहकों को तुरंत सहायता उपलब्ध कराते हैं। यदि आपको खाते, ATM, इंटरनेट बैंकिंग इत्यादि से संबंधित कोई समस्या आती है तो आप बैंक द्वारा दिए गए एक विशेष नंबर पर कॉल कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं।

इस प्रकार की तुरंत समस्या समाधान हेल्पलाइन टेलीकॉम कंपनियों द्वारा भी उपलब्ध करवाई जाती है जैसे जियो, एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया इत्यादि। जिन पर कॉल कर आप अपने मोबाइल में नेटवर्क या डाटा इत्यादि से संबंधित सहायता पा सकते हैं।

भारत की बात की जाए तो भारत में हेल्पलाइन नंबर 1800 से शुरू होता है। ज्यादातर कंपनियां 1800 हेल्पलाइन का प्रयोग इसलिए करती हैं क्योंकि इसमें बात करने के लिए जो भुगतान किया जाता है वह फोन को रिसीव करने वाला व्यक्ति करता है इसलिए जब आप कॉल करते हैं तो आपके लिए यह फ्री होता है और आपका बैंक या कंपनी जिसकी सेवा आप ले रहे हैं वह इसके लिए भुगतान करती है।

सभी संस्थाओं की यह कोशिश रहती है कि वे अपने ग्राहकों की समस्याओं का जल्द से जल्द निपटारा करें ताकि उनके ग्राहकों को समस्या न हो। क्योंकि अगर ग्राहकों की समस्याओं को सुलझाया नही जाता तो वे उस कंपनी को छोड़ कर किसी दूसरी कंपनी की सेवा लेना शुरू कर देते हैं। इसलिए सभी कंपनियां इस समय विशेष प्रकार के हेल्पलाइन नंबर जारी करने लगी हैं।

इसके अलावा सरकार भी विभिन्न तरह की हेल्पलाइन जारी करती है जैसे कि यदि रोड एक्सीडेंट हुआ उसके लिए अलग हेल्पलाइन है, महिलाओं की समस्याओं के लिए अलग हेल्पलाइन है, बच्चों की समस्याओं के लिए अलग हेल्पलाइन है, इमरजेंसी के लिए अलग हेल्पलाइन है इसके अलावा यदि कहीं पर आग लग जाए तो फायर ब्रिगेड बुलाने के लिए अलग हेल्पलाइन है वहीं यदि स्वास्थ्य संबंधित कोई परेशानी हो तो एंबुलेंस बुलाने के लिए अलग से हेल्पलाइन जारी की गई है।

इसके अलावा समय-समय पर यदि सरकार को आवश्यकता पड़ती है तो वह किसी विशेष क्षेत्र के लिए टेंपरेरी (अस्थाई) हेल्पलाइन भी जारी कर सकती है। जिन पर कॉल कर उस अस्थाई समस्या से जूझ रहे व्यक्ति अपनी समस्याओं का समाधान पा सकते हैं। उस अस्थाई समस्या के समाप्त होने के बाद वह हेल्पलाइन भी बंद कर दी जाती है। इस प्रकार की अस्थाई हेल्पलाइन मुख्य रूप से बाढ़, भूकंप या अन्य किसी प्राकृतिक आपदा से ग्रस्त क्षेत्रों में जारी की जाती है।

तो इस प्रकार यदि सीधे अर्थों में बात की जाए तो हेल्पलाइन कोई भी ऐसी सेवा होती है जहां पर कॉल कर हम अपनी समस्याओं का समाधान पाते हैं। और उस सेवा को एक्सेस करने के लिए हमें एक नंबर दिया जाता है जिसे हेल्पलाइन नंबर कहा जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दिगम्बर और श्वेताम्बर का अर्थ | Digambar & Shwetambar Meaning in Hindi

जैन धर्म के दो सम्प्रदाय हैं; एक सम्प्रदाय है श्वेताम्बर और दूसरा सम्प्रदाय है दिगम्बर; श्वेताम्बर शब्द श्वेत और अंबर से बना है अर्थात सफेद ...