घोषणा पत्र का अर्थ | Ghoshna Patra Meaning in Hindi

घोषणा पत्र शब्द का प्रयोग प्रायः राजनीति से सबंधित क्षेत्रों में किया जाता है। घोषणा पत्र यानी मेनिफेस्टो राजनीतिक दलों द्वारा चुनाव से पहले जारी किए जाने वाले उनके चुनावी वादों का लिखित रूप होता है। भारत सहित दुनिया के वे सभी देश जहाँ चुनाव होते हैं वहाँ पर सभी राजनीतिक दल मैनिफेस्टो जारी करते हैं।

मैनिफेस्टो जारी करने का उद्देश्य होता है राजनीतिक दलों द्वारा लोगों को यह बताना की यदि वे सरकार बनाते हैं तो लोगों के भले के लिए कौन कौन से कार्य करेंगे। मेनिफेस्टो पढ़कर लोग यह तय करते हैं कि उन्हें किस पार्टी को वोट देना है और किसे नही। हालांकि भारत में बहुत ही कम लोग ऐसे हैं जिन्होंने आज तक किसी राजनीतिक दल के मेनिफेस्टो को पढा है। मेनिफेस्टो में लिखी हुई मुख्य बातें मीडिया द्वारा ही लोगों तक पहुँचाई जाती हैं। ज्यादातर लोग मेनिफेस्टो को झूठे वादों का लिखित रूप समझते हैं और इस पर ज्यादा ध्यान नही देते। यद्द्पि लोगों का यह रवैय्या लोकतांत्रिक व्यवस्था को कमजोर अवश्य करता है।

सभी राजनीतिक दल अपनी राजनीतिक विचारधारा के अनुसार अपने घोषणा पत्र को अलग नाम भी देते हैं जैसे भारत में भारतीय जनता पार्टी अपने मेनिफेस्टो को संकल्प पत्र के नाम से जारी करती है।

यहाँ हमें यह भी याद रखना है कि मेनिफेस्टो केवल राजनीतिक दल ही नही बल्कि आम लोग भी निजी तौर पर जारी कर सकते हैं। जैसे आपको किसी सरकारी कार्य के लिए घोषणा पत्र देने के लिए कहा जा सकता है। आपके द्वारा दिए जाने वाले इस घोषणा पत्र का उद्देश्य आपकी अपनी कही बातों का लिखित में ब्यौरा देना होता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...