एम्बार्गो का अर्थ | Embargo Meaning in Hindi

हाल ही में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आत्मनिर्भर भारत को ओर कदम बढ़ाते हुए 101 सैन्य उपकरणों के आयात पर Embargo लागू की है। जिसके बाद इन 101 उपकरणों का आयात अब प्रतिबंधित हो जाएगा। जिनमें आर्टिलरी गन, राडार, ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, असाल्ट राइफल तथा सोनार सिस्टम शामिल हैं। इस वीडियो में हैं समझने की कोशिश करेंगे कि Embargo क्या होता है तथा 101 उपकरणों में से वो कौन से मुख्य उपकरण हैं जिन पर Embargo लगाया गया है।

दरअसल Embargo एक सरकारी आदेश को कहा जाता है जिसके जरिए किसी देश की सरकार विदेशी सामान के आयात प्रतिबंध लगाती है।

वहीं Embargo किसी जानकारी पर भी लगाया जा सकता है जिसके बाद निश्चित समय के लिए वो जानकारी अप्रकाशित अवस्था में रहती है जब तक कि Embargo हटा ना लिया जाए।

ठीक ऐसे ही किसी अन्य अवस्था में भी जब किसी विषय-वस्तु पर जब आधिकारिक प्रतिबंध लगाया जाता है तो इसे Embargo कहा जाता है तथा वह विषय वस्तु Under Embargo की श्रेणी में आ जाती है।

रक्षा मंत्रालय द्वारा जिन 101 सैन्य उपकरणों पर प्रतिबंध लगाया गया है उनमें स्नाइपर राइफल, ट्रैकड सेल्फ प्रोपेल्ड गन, शॉर्ट रेंज सरफेस टू एयर मिसाइल, शिपबॉर्न क्रूज मिसाइल, मल्टी बैरल रॉकेट लांचर, टैंक सिम्युलेटर्स, बुलेट प्रूफ जैकेट्स, बैलिस्टिक हेलमेट्स, मिसाइल डिस्ट्रॉयर, फ्लॉटिंग डॉक, लाइट मशीन गन, माइन एंटी-टैंक, कन्वेंशनल सबमरीन्स, कम्युनिकेशन सैटेलाइट GSAT-7C, लांग रेंज - लैंड अटैक क्रूज मिसाइल इत्यादि शामिल हैं।

यह प्रतिबंध कुछ उपकरणों पर दिसंबर 2020 से लागू होगा तो वहीं सभी उपकरण दिसंबर 2025 तक पूरी तरह से बैन हो जाएंगे।

इस बैन का सीधा लाभ घरेलू उद्योगों को मिलेगा; आने वाले 6 से 7 वर्षों में घरेलू उद्योगों को 4 लाख करोड़ रुपए के कॉन्ट्रैक्ट्स मिलने की संभावना है।

जानने योग्य है कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में रक्षा बजट को दो भागों में बांटा जाएगा जिसमें घरेलू बजट तथा रक्षा खरीद बजट दोनों को अलग रखा जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...