गोल्डन वीजा का अर्थ | Golden Visa Meaning in Hindi

चर्चा में क्यों : हाल ही में UAE (यूनाइटेड अरब अमीरात) ने विदेशी नागरिकों को दीर्घकालीन निवास देने के लिए गोल्डन वीजा योजना शुरू की है तथा बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त को यह वीजा दिया है। इसी के चलते गोल्डन वीजा शब्द चर्चा में आया है।

गोल्डन वीजा क्या है : यह एक तरह का खास वीजा है जो विदेशी निवेशकों, प्रतिभावान व्यक्तियों, शोधकर्ताओं, चिकित्सकों, वैज्ञानिकों व उल्लेखनीय छात्रों को अपने देश में आकर्षित करने के लिए विभिन्न देशों द्वारा जारी किया जाता है। इसकी समय सीमा 5 या 10 वर्ष तक की होती है।

सेकंड होम या मिनी सिटीजनशिप : जिस व्यक्ति को गोल्डन वीजा मिलता है वो बिना अतिरिक्त वीजा के कभी भी मेजबान देश में जा सकता है जिस कारण वह देश उस व्यक्ति के लिए सेकंड होम बन जाता है। इस वीजा को मिनी सिटीजनशिप के नाम से भी जाना जाता है।

वीजा के लिए योग्यता : कोई भी निवेशक, शोधकर्ता, चिकित्सक, वैज्ञानिक व या किसी अन्य क्षेत्र से जुड़ा व्यक्ति जिसे लगता है कि वो गोल्डन वीजा के लिए योग्य है, आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इसके लिए आवेदन कर सकता है। हालांकि यह वीजा पाने से पहले व्यक्ति को कुछ शर्तें पूरी करनी होती हैं जैसे कि UAE में 10 वर्ष का गोल्डन वीजा प्राप्त करने के लिए निवेशकों को कम से कम 1 करोड़ दिरहम का निवेश करना अनिवार्य होता है।

अन्य तथ्य :

1. गोल्डन वीजा में प्राप्तकर्ता की पति/पत्नी, बच्चे, कार्यकारी निदेशक या सलाहकार शामिल हो सकते हैं।

2. प्रतिभावान व्यक्तियों जैसे कि वैज्ञानिकों, विशेषज्ञों, चिकित्सकों इत्यादि को यह वीजा फ्री दिया जा सकता है।


वीडियो के माध्यम से समझें : गोल्डन वीजा

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

वर्ण शंकर का अर्थ | Varna Shankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं...