कोल्हू का बैल मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग / Kolhu ka bail muhavare ka arth aur vakya prayog

* कोल्हू का बैल एक प्रचलित मुहावरा है

* जब कोई व्यक्ति दिन रात मेहनत करता है तो कहा जाता है कि यह तो कोल्हू का बैल हो गया है, जिस प्रकार कोल्हू का बैल बिना रूके लगातार मेहनत करता जाता है तथा किसी भी तरफ ध्यान दिए बिना केवल कार्य में मगन रहता है उसी प्रकार दिन रात मेहनत करने वाले व्यक्ति के लिए कोल्हू का बैल मुहावरे का प्रयोग किया जाता है

* कोल्हू का बैल मुहावरे का शाब्दिक अर्थ होता है - अत्यधिक परिश्रमी व्यक्ति, दिन रात परिश्रम करने वाला, बहुत मेहनत करने वाला

* वाक्य प्रयोग - मोहन अपने परिवार का पेट पालने के लिए कोल्हू के बैल की तरह काम करता है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

द्वैतवाद क्या है / Dvaitavad kya hai / Dvaitavad meaning in Hindi

द्वैतवाद धर्म से संबंधित एक सिद्धांत है, जो कहता है कि मनुष्य और भगवान अलग-अलग वास्तविकताएं हैं, यह सिद्धांत मध्वाचार्य द्वारा दिया गया है, ...