सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

सितंबर 17, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

वर्णसंकर का अर्थ | Varnasankar meaning in Hindi

वर्ण व्यवस्था के अंतर्गत चार वर्ण बताए गए हैं ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र। जब दो अलग अलग वर्ण के महिला व पुरुष आपस में विवाह करते हैं तो उनसे जन्मी सन्तान या नई जाति को वर्ण शंकर कहा जाता है।