सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

जनवरी 26, 2022 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

काला अक्षर भैंस बराबर मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग / Kala Akshar Bhains Barabar muhavare ka arth aur vakya prayog

काला अक्षर भैंस बराबर एक मुहावरा है इसका प्रयोग विशेषतः ग्रामीण क्षेत्रों में देखने को मिलता है। इस मुहावरे का अर्थ होता है - अनपढ़ होना, यानि वह व्यक्ति जो पढ़ा लिखा ना हो निरक्षर हो, उसके लिए इस मुहावरे का प्रयोग किया जाता है और कहा जाता है कि इस व्यक्ति के लिए तो काला अक्षर भैंस बराबर है। इस मुहावरे का शाब्दिक अर्थ यहां पर यह हुआ कि वह व्यक्ति ऐसा है जिसके लिए लिखा हुआ कुछ भी पढ़ पाना संभव नहीं है। इस मुहावरे का वाक्य में प्रयोग किस प्रकार किया जा सकता है वाक्य होगा - रमेश के लिए काला अक्षर भैंस बराबर है लेकिन फिर भी उसने अपनी मेहनत के बलबूते बहुत अधिक मान सम्मान हासिल किया है - इसका अर्थ यह हुआ कि रमेश के पास मेहनत के बलबूते प्राप्त मान सम्मान तो है लेकिन उसके लिए काला अक्षर भैंस बराबर है यानी कि वह अनपढ़ है, निरक्षर है।